How To Increase Sexual Power | Acharya Balkrishna (Ayurvedic Remedies)


पूज्य आचार्य बालकृष्ण जी ने इस विडियो में सफ़ेद प्याज के प्रयोग के बारे में बताये हैं
प्याज को कामशक्ति बढाने वाला माना गया हैं जिनको कामशक्ति की परेशानी हैं वे मध्य्म आकार के 3 प्याज को 250 – 300 ग्राम दूध में मंद आंच में पकाए जब वह मावा जैसा बन जाये तो शुद्ध घी में डालकर मंद आंच में भुने भूनने के बाद 3-4 चम्मच शहद डालकर दूध के साथ सेवन करे इससे कामशक्ति बढ़ेगी और यौन शिथिलता दूर होगी

Visit Us
Website:

Facebook:

Twitter :

YouTube :

Google +

source

37 thoughts on “How To Increase Sexual Power | Acharya Balkrishna (Ayurvedic Remedies)”
  1. Guru Ji कोई ऐसा नुस्खा बताए जिस के सेवन से सिर पैरों और पुरे शरीर को ठंडक मिलें और शक्तिवर्धक, लिंग के ढीलेपन को दूर कर शीघ्रपतन रोग से निजात दिलाने में भी मदद करें।

  2. गुप्त रोगी बिना पढ़े ना छोड़े नामर्द को मर्द बनाने वाला ऐसा रामबाण नुस्खा जो राजे महाराजाओं द्वारा उपयोग किया हुआ है

    गुप्त रोगी बिना पढ़े ना छोड़े — नामर्द को मर्द बनाने वाला रामबाण नुस्खा !! राजे महाराजाओं द्वारा उपयोग किया हुआ!! एवं आयुर्वेद का सबसे सफल एवं महान सम्भोग शक्ति का नुस्खा है यह!! जो पुरुष एक बार यह नुस्खा प्रयोग कर लेगा और उसके बाद अपने साथी से संबंध बनाएगा तो मैं दावे के साथ कह सकता हूं वह नारी सिर्फ उसकी ही बन के रह जाएगी !!
    .
    .
    ➡ पुरुषों के समस्त गुप्त रोगों का रामबाण प्रयोग :

    मूसली सफेद -35ग्राम
    मूसली काली -55ग्राम
    बहमन लाल -37ग्राम
    बहमन सफेद -37ग्राम
    सालम पंजा -52ग्राम
    सालम मिश्री -32ग्राम
    शुद्ध कौंच बीज -35ग्राम
    बीज बंद -45ग्राम
    पीला सतावर -32ग्राम
    अस्वगंधा -30ग्राम
    उंटंगन बीज -25ग्राम
    सालम गत्ता -20ग्राम
    रूमी मस्तगी – 25ग्राम
    अकरकरा -25ग्राम
    सिंघाड़ा गिरी -25ग्राम
    विधारी कंद -35ग्राम
    जायफल -35ग्राम
    दालचीनी -35ग्राम
    लौंग -35ग्राम
    .
    .
    जाफरन -27ग्राम
    रस सिंदूर -लगभग 32ग्राम
    शुद्ध शिलाजीत -60ग्राम
    बंग भस्म -40ग्राम
    मोती भस्म -25ग्राम
    स्वर्ण भस्म -5मासे
    प्रवाल पिष्टी -40ग्राम
    सिध्मकरद्धवज -20ग्राम
    लौह भस्म सहस्त्रपुस्तति -30ग्राम
    अब्रक भस्म सहस्स्त्रपुस्तति -30ग्राम
    उड़द की देसी घी में भुनी हुई दाल -175ग्राम
    ➡ तैयार करने का तरीका और प्रयोग विधि :

    सभी औषधियों को धुप में सुखाकर चूर्ण बना ले !! फिर कपड़छान करे 2 बार फिर प्रयोग में लाये। आधा चम्मच सुबह आधा चम्मच शाम को खाना खाने के बाद दूध के साथ खाएं फिर देखिए इस नुस्खे का चमत्कार!!
    ➡ इस चमत्कारी उपाय के अद्भुत फायदे :

    यह दवा मर्दाना कमजोरी,शीघ्र पतन,शुक्राणु की कमी, लिंग का टेढापन, संभोग की इच्छा न करना जल्दी निकल जाना, हस्त मैथुन की वजह से,सुस्ती,इन्द्रिय का शिथिल न हो पाना, लंबे समय तक, व वृद्ध अवस्था को रोकने इत्यादि में बहुत ही ज्यादा लाभकारी है। बचपन की गलतियों के कारण अगर आपका लिंग छोटा हो गया है या !! आपकी उम्र के मुताबिक आपके लिंग का साइज बढ़ नहीं पाया !! उसको भी हंड्रेड परसेंट गारंटी के साथ 1 से डेढ़ इंच लंबाई और मोटाई लिंग की बढ़ाएगा और आपके वीर्य को गाढ़ा करके और ज्यादा मात्रा में बनाकर आपका सम्भोग करने का टाइम 10 से 15 मिनट गारंटी के साथ हर हाल में करेगा !! आपके अंग को पत्थर की तरह मजबूत करके पूरा स्ट्रांग कर देगा इसे 20 साल से लेकर 65 साल तक कोई भी पुरुष खा सकता है! यह प्योर आयुर्वेदिक है जिसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है दवा बनाते समय यह ध्यान रखे की जड़ी बूटिया ज्यादा पुरानी न हो, बढ़िया हो। यह 100 % हर्बल है कोई साइड इफ़ेक्ट नही है। यह दवा 101% किसी रोगी को उदास नही होने देगी।

    {नोट:यदि आप नही बना सकते तो बनी बनाई दवाई हमसे डाक कुरियर के जरिये मंगवा सकते है}
    नोट: हमारे यहां गुफ्त रोग नपुंसक,बांझपन,स्कीन प्रॉब्लम,केंसर जैसे गंभीर बीमारी का भी योग आयुर्वेद पंचगव्य बैज्ञानिक पद्धति से सरल इलाज किया जाता है!

    अन्य किसी भी निशुल्क चिकित्सा परामर्श के लिए सुप्रसिद्ध वैद्य अमित जी से फोन पर संपर्क करे!

    Call Timing 🕙10Am To 🕓04Pm.
    Close:- Sunday
    Please Contact📲 +919534614761
    सवामी जी को सदर वंदन🙏
    *स्वदेशी अपनाए देश बचाये*🙏🌷

  3. आचार्य जी इसका प्रयोग आप खुद पर करें । और शादी भी करिये । ब्रह्मचर्य पाप है । ब्रह्मचर्य अनैसर्गिक है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.